Home स्वास्थ्य मेनोपॉज या रजोनिवृति को जानिए

मेनोपॉज या रजोनिवृति को जानिए

SHARE

मेनोपॉज या रजोनिवृति किसी की महिला के शरीर का वो पडाव है जब उसका मासिक स्त्राव हमेशा के लिए बंद हो जाता है चूँकि मासिक स्त्राव का होना किसी भी नारी की यौवन में कदम रखने के बाद होने वाली अहम् शारीरिक क्रिया है लेकिन फिर उम्र के साथ एक पडाव ऐसा भी आता है जब मासिक स्त्राव पूरी तरह बंद हो जाता है उसे ही मेनोपॉज या रजोनिवृति की अवस्था कहा जाता है | सामान्यत यह 45-50 की आयु की महिलाओं में होता है चलिए इस बारे में कुछ गहन बात करते है –

प्रजनन क्षमता का अंत – मेनोपॉज या रजोनिवृति होने का मतलब है महिला की प्रजनन क्षमता का खत्म होना और रजोनिवृति होने के समय में या उस से छ महीने से लेकर दो साल पहले तक रज यानि खून का रंग गाढ़ा होने लगता है और मेनोपॉज होने से तात्पर्य है कि महिला के अंडाशय की क्रियाएं बंद हो चुकी है लेकिन यंहा एक गौर करने वाली बात आपको जान लेना आवश्यक है कि इस अवस्था में स्त्री की काम इच्छा में कोई कमी नहीं होती है और वो पहले की तरह की कामानंद को उपभोग कर सकती है |

मेनोपॉज या रजोनिवृति के लक्षण 

  • सामान्यत वजन बढ़ने लगता है और कुंल्हो स्तन और नितम्बो के आस पास चर्बी बढ़ने लगती है और ऐसे में महिलाएं थोड़ी मोटी नजर आने लगती है लेकिन व्यायाम आदि से इसे नियमित किया जा सकता है |
  • योनी द्वार संकीर्ण होने लगता है और उसमे निरंतर रिसने वाला तरल पदार्थ जो सेक्स के समय में अहम् भूमिका निभाता है वो उसका रिसाव बंद होने लगता है |

    मेनोपॉज या रजोनिवृति
    मेनोपॉज या रजोनिवृति
  • गर्भाशय का size छोटा और कठोर हो जाता है |
  • सब्र कम होने लगता है ,मानसिक अवसाद ,चिडचिडापन और साथ ही कभी कभी तेज सिरदर्द जेसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है |
  • कभी कभी  मेनोपॉज या रजोनिवृति के समय में महिला को अत्यधिक कामेच्छा का अनुभव होता है लेकिन फिर थोड़े समय बाद ही उसमे कमी होने लगती है |
  • चेहरे पर लाली सी आ जाती है और महिला को अत्यधिक थकान और गर्मी महसूस होने लगती है |
  • चूँकि शरीर में अतिरिक्त वसा का जमाव होने लगता है जैसा हमने आपको ऊपर बताया तो उसकी वजह से उम्र बढ़ने के साथ साथ जोड़ो के दर्द जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है |
  • जोड़ो के दर्द को दूर करने के लिए आप हलके फुल्के व्यायाम का सहारा ले सकते है और जोड़ो का दर्द कैसे दूर करें विस्तार से जानने के लिए आप यंहा क्लिक करें |
  • मेनोपॉज या रजोनिवृति के समय आ रही किसी भी विशेष परेशानी के लिए आप अपने डॉक्टर से निरंतर सम्पर्क में रहे और अपने शरीर में आ रहे बदलावों से उन्हें अवगत करवाएं ताकि आपका यह समय भी सुखमय बीते |

आपको ये पोस्ट  मेनोपॉज या रजोनिवृति को जानिए कैसी लगी इस बारे में अपने विचार हमे कमेन्ट के माध्यम से दें और हमारी अपडेट पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है |Image Source