Home Short Stories चमत्कारी सुरमा – Chamtkari surma in hindi kahani

चमत्कारी सुरमा – Chamtkari surma in hindi kahani

SHARE

surma in hindi – एक बहुत पुरानी घटना है | एक राज्य में एक मंत्री था जो बिना किसी स्वार्थ के लोगो की सेवा करता था | कुछ दिनों बाद मंत्री के साथ एक दुखद हादसा हो  गया और मंत्री की आँखों की रौशनी चली गयी तो राजा ने बड़े प्रेम से उस मंत्री को मंत्रिमंडल से विदाई दे दी | कुछ दिनों बाद पड़ोसी राज्य के राजा ने राजा को एक सुरमे की डिबिया और एक पत्र भेजा | पत्र में लिखा था यह अत्यंत मूल्यवान सुरमा है इसे लगाने से आँखों का अंधापन दूर हो जाता है |

राजा सोच में पड़ गया क्योंकि उसे समझ नहीं आ रहा था वह इसे किस किस को दे क्योंकि उसके राज्य में बहुत सारे नेत्रहीन लोग थे जिन्हें इस सुरमे से ठीक किया जा सकता था जबकि सुरमे की मात्र इतनी थी बस इसे दो आँखों में डाला जा सकता था | राजा अपने किसी प्रिय को इसे देना चाहता था तभी उसे अपने मंत्री की याद आई | राजा ने सोचा अगर उसकी आँखों की रौशनी वापिस आ जाये तो उसे योग्य मंत्री की सेवाएँ फिर से मिलने लगेगीं | राजा ने मंत्री बुलाया और उसे बोला कि इसे आप आँखों में डालने से आपको फिर से दिखने लग जायेगा और यह केवल दो आँखों के लिए है | मंत्री ने अपने एक आंख में सुरमा डाला और देखा कि उसकी एक आँख की रौशनी आ गयी है उसे फिर से पहले की तरह दिखाई देने लगा है और उसने बचा खुचा सुरमा अपनी जीभ पर डाल दिया इस पर राजा चकित रह गया और बोला ये अपने क्या किया |

मंत्री ने कहा राजन ! आप चिंता न करें मैं काना नहीं रहूँगा  मेने ये करके इसका स्वाद चखा है और पता लगा लिया है यह किस चीज़ से बना है अब मैं ऐसा सुरमा बनाकर अपने राज्य के बाकि जरुरतमंदो की भी सहायता करूंगा ताकि बाकि नेत्रहीन भी फिर से देख पायें |