Home स्वास्थ्य गर्भावस्था में खानपान और पोषण का रखें ध्यान

गर्भावस्था में खानपान और पोषण का रखें ध्यान

SHARE

Garbhavastha me khana – गर्भावस्था में खानपान के मामले में जरा भी कोताही नहीं बरती जानी चाहिए क्योंकि उस समय शिशु के विकास पर इसका बुरा असर पड़ सकता है इसलिए आवश्यक है कि महिला का ऐसे समय में खानपान स्वास्थ्यवर्धक और पोषण युक्त होना चाहिए | गर्भवती महिला खुद ये सुनिश्चित करें कि जिन्दगी के इस अहम पड़ाव पर उसके शरीर को भोजन में उचित पोषण तत्वों की पूर्ति हो रही है या नहीं | इसी बारे में हम कुछ जानकारी अपने पाठकों के लिए यंहा शेयर कर रहे है –

गर्भावस्था में खान पान का रखें विशेष ध्यान 

दो के लिए नहीं खाएं – गर्भावस्था में खानपान संबधी सुजाव देते समय लोग और परिवार वाले यह कहते दिखते है कि अब तो खूब खाना खाया जाना चाहिए क्योंकि अब महिला एक नहीं बल्कि दो जिन्दगी है जबकि ऐसा कुछ नहीं है यह केवल भ्रान्ति मात्र है जानकारों की माने तो ऐसे में महिला को केवल 300 केलोरी अधिक आवश्यकता होती है इसलिए उसी के अनुसार अपने भोजन को समुचित करें |

स्वास्थ्यवर्धक आहार – गर्भावस्था के दौरान आपके द्वारा लिया गया आहार आपके प्रसव  के लिए निर्भर होने वाले कारकों में से एक है इसलिए ध्यान रखें आपका खाना पोषक हो साथ ही बिना अधिक चर्बी वाला मीट मछली और पोल्ट्री उत्पादों का सेवन करें और ताजा फल सब्जियों का ही इस्तेमाल करें |

जंक फूड से बचे – गर्भावस्था के दौरान भी महिलाओं को चटपटा खाने का बड़ा मन करता है लेकिन भलाई इसी में है की खुद पर नियंत्रण रखें और गर्भावस्था के दौरान जंकफूड खाने से यथासंभव बचे क्योंकि फास्टफूड खाना केवल पल भर के लिए संतुष्टि मात्र है इसके बाद यह हमारे शरीर को मिलने वाले पोषण में कोई भी प्रभावी योगदान नहीं देता है |

Garbhavastha me khana गर्भावस्था में खानपान
Garbhavastha me khana गर्भावस्था में खानपान

फाइबर और कैल्शियम आयरन युक्त भोजन – अपने खाने में ध्यान रखें कि वो फाइबरयुक्त खाद्य पदार्थो से लेस हो और साथ ही कैल्शियम और आयरन गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ही important होते है इसलिए भोजन में इन सभी पोषक तत्वों की प्रचुरता हो ये सुनिश्चित करें |  पालक और चर्बी रहित मीट और फलिओं में अच्छा खासा आयरन होता है और दूध के बने products में बहुत मात्र में कैल्शियम होता है |

विटामिन सी – एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व के रूप में विटामिन सी से युक्त फल भी खाएं जिनमे टमाटर पपीते और स्ट्राबेरी शामिल है |

फोलिक एसिड – यह पोषक तत्व हरी पत्तेदार सब्जिओं और दलों में पाया जाता है तो गर्भावस्था के दौरान काफी महत्वपूर्ण पोषक तत्वों में से एक है जिनकी जरुरत गर्भवती महिला को होती है इसलिए इस बारे में ध्यान रखें |

डॉक्टर से लगातार सम्पर्क – अपने डॉक्टर से हमेशा सम्पर्क में रखने और उन्हें अपनी हर परेशानी और जिज्ञासा से अवगत करवाएं और उन्हें प्रेनेटल विटामिन्स सप्लीमेंट के बारे में भी सुझाव देने को कहें क्योंकि इस से यह सुनिश्चित होगा कि आपके बच्चे और आपको गर्भावस्था की इस महत्वपूर्ण स्टेज में अच्छे से पोषक तत्व मिल रहे है |

आप इस पोस्ट ” Garbhavastha me khana -गर्भावस्था में खानपान ” के बारे में अपने विचार हमे कमेन्ट के माध्यम से अवश्य बताएं और ताजा updates पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक कर सकते है | Image Source