Home Short Stories थोडा सोचा होता तो – Greedy boy story in hindi

थोडा सोचा होता तो – Greedy boy story in hindi

SHARE

Greedy boy story in hindi – एक  गरीब युवक अपनी गरीबी से परेशांन होकर किसी नदी के किनारे अपने जीवन को समाप्त करने गया | एक साधू वंहा था जिसने उसे ऐसा करने से रोक दिया | साधू ने युवक से परेशानी पूछी और सुनकर उस से कहा कि ” मेरे पास एक जादुई घडा है और तुम जो भी इस जादुई घड़े से मांगोगे ये पूरी कर देगा |” पर जिस दिन यह घडा फूट जायेगा जो कुछ भी इसने दिया है वो गायब हो जायेगा | मैं तुम्हे वो घडा दे सकता हूँ अगर तुम दो साल तक मेरी सेवा करते हो तो | और अगर पांच साल तक मेरी सेवा करते हो तो मैं तुम्हे वो जादुई विद्या भी सिखा सकता हूँ जिस से तुम वो घडा बना सकते हो | बोलो तुम क्या चाहते हो ?

इस पर उस युवक ने कहा ‘महाराज मैं तो दो साल तक आपकी सेवा करने को तेयार हूँ मुझे तो जल्दी से जल्दी बस ये घडा चाहिए ‘ | मैं इसे बहुत संभाल कर रखूंगा और इसे कभी फूटने ही नहीं दूंगा | इस तरह दो साल सेवा करने के बाद उस युवक ने वो जादुई घडा प्राप्त कर लिया और अपने घर पहुँच गया | युवक ने उस घड़े से अपनी हर इच्छा पूरी की महल बनाया नौकर चाकर बनाये और सब तरह से धन धान्य से संपन्न हो गया | इसके बाद उसके विलासिता का जीवन शुरू कर दिया और मदिरापान करना भी शुरू कर दिया एक दिन शराब पीकर वो घड़े को अपने सर पर रखकर नाच रहा था कि घडा फूट गया और जो कुछ उसने बनाया था सब गायब हो गया |

अब युवक सोचने लगा कि अगर मेने जल्दबाजी नहीं की होती और ठीक से सेवा करके अगर वो विद्या भी सीख ली होती तो मैं आज फिर से गरीब नहीं बनता अब तो सब कुछ खो गया |

moral : कोई भी काम करने में जल्दबाजी नहीं की जानी चाहिए हमे सबसे पहले उस विषय में गहरा ज्ञान हासिल कर लेना चाहिए जो हमे अनुभवी बनाता है |