Home विचार प्रवाह सम्मान का अंधा दंभ है ऑनर किलिंग -honor killing in india hindi

सम्मान का अंधा दंभ है ऑनर किलिंग -honor killing in india hindi

SHARE

  honor killing in india hindi-    “ऑनर किलिंग” के बारे में अनमोल सरोज जी  की व्यंगात्मक पोस्ट

“आप बलात्कार कर लो किसी ने मना किया है? पर प्रेम विवाह जैसी घिनौनी हरकत के लिए हमारी संस्कृति में कोई जगह नही है हमारे यहाँ विवाह बिजनेस के लिए किया जाता है सम्मान

के लिए किया जाता है , समाज के लिए किया जाता है प्रेम जैसी नोन प्रोफिटेबल चीज के लिए हम विवाह जैसी किमती चीज दाँव पे नही लगा सकते। टू बी हैंग टिल डैद विद इरिस्पेक्ट ”

जो वाकई हमे ये बताने के लिए काफी है कि  “ऑनर किलिंग ” यानि कि इज्जत के नाम पर प्रेमी युगलों की हत्याओ के दिन प्रतिदिन सामने आने वाले मामले  न केवल दुर्भाग्यपूर्ण है बल्कि इस से साफ पता चलता है कि वास्तविक भारत की तस्वीर क्या है और परम्पराओ और रीति रिवाजो के नाम पर कितना “गंद ” भरा हुआ है लोगो के दिमाग में जबकि शिक्षित और सभ्य कहे जाने वाले समाज में “ऑनर किलिंग” के नाम पर हर साल कई बेगुनाह मौत की घाट उतार  दिए जाते है अरे मुझे तो समझ नहीं आता जब दो युवा अपनी आपसी समझ से साथ साथ अपनी ख़ुशी के लिए जिन्दगी बिताना तय करते है तो इसमें गलत क्या है & उस से न केवल रुढ़िवादी बल्कि खुद को आधुनिक और शिक्षित बताने वालो की  ##@#@ में भी बम्बू हो जाता है और फिर ऐसे शर्मनाक घटनाक्रम से हमे और समाज को  गुजरना पड़ता है जबकि वजह साफ़ है  सम्मान का अंधा नशा, जिसकी भेंट चढ़ते हैं ऐसे युवा, जो अपनी खुशियों के लिए समाज व परिवार के विरूद्घ कदम उठाते हैं और बदले में मौत पाते हैं ,ये वाकई हमारे संभ्य कहे जाने वाले समाज का वाहियात और वीभत्स चेहरा है ।

मैं ऐसा नहीं कहता कि हर बार घरवालो या समाज के खिलाफ जाकर साथ जिन्दगी बिताने को तय करने वाले प्रेमी जोड़े सही होते है पर ऐसे में घरवालो या समाज को चाहिए कि उनसे भविष्य में कोई रिश्ता भले ही न रखे पर किसी की जान लेने का हक तो हमे नहीं है इसके बावजूद अगर ऐसा होता है तो ये सविधान द्वारा हमे प्रदत्त हमारे मानवाधिकारो के विरुद्ध है |

 

9