Home महिला विशेष गर्भावस्था में देखभाल कैसे करें -Pregnancy Care tips Hindi

गर्भावस्था में देखभाल कैसे करें -Pregnancy Care tips Hindi

SHARE

know about Pregnancy Care tips Hindi -गर्भावस्था यानि कि माँ बनना शायद किसी भी स्त्री के लिए एक वरदान जैसा है लेकिन गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कई तरह के हार्मोनल और शारीरिक बदलावों के दौर से गुजरना होता है और इनसे आने वाली पपरेशानियो से सामना करना पड़ता है | ऐसा नहीं है हर किसी के साथ होता हो कि गर्भावस्था के दिनों में मुश्किलों से गुजरना पड़े लेकिन फिर भी किसी किसी के लिए हो सकता है गर्भावस्था का समय थोडा मुश्किलों से भरा हो इसलिए इन दिनों में क्या क्या सावधानियां रखी जानी चाहिए चलिए इस विषय में कुछ बात करते है |

Pregnancy Care tips Hindi
Pregnancy Care tips Hindi

 

पहले से योजना बनाएं – गर्भावस्था के काल के दौरान प्रसव के समय से पहले और काफी पहले से अच्छी प्लानिंग करें कि आपको कैसे इस समय में खुद को Manage करना है बेहतर होता है अगर आप किसी डॉक्टर से अपने सम्पर्क इस समय में अच्छे बना लेते है ताकि समय समय पर आपको सही से मार्गदर्शन भी मिलता रहे |

खानपान में ध्यान रखें – लोगो को अक्सर लगता है कि गर्भवती गर्भावस्था के दौरान अधिक खाना चाहिए लेकिन ऐसा नहीं है यह केवल एक भ्रम है क्योंकि आमतौर पर किसी भी सामान्य महिला को 1900-2000 केलोरिज की जरुरत होती है जबकि गर्भावस्था काल में अधिक से अधिक मात्र 300 कैलोरीज की अधिक आवश्यकता होती है ऐसे में आप फल ,हरी सब्जी,नट्स या अंडे खा सकते है जबकि अगर आप मीठा खाने की अधिक शौकीन है तो आपको गर्भावस्था के दौरान अधिक मीठा खाने से बचना चाहिए क्योंकि ऐसे में जेस्टनल डायबीटीज का खतरा बढ़ जाता है जिसे साधारण भाषा में गर्भ में मधुमेह होना कहते है | चूँकि गर्भावस्था के दौरान आँतों का मूवमेंट धीमा हो जाता है ऐसे में आयरनयुक्त भोजन से भी कब्ज की शिकायत होती है इस से बचने के लिए आप फाईबरयुक्त भोजन करें और गलती से भी डॉक्टर की परवाह के बिना कोई भी दवाई नहीं लें |

हल्का फुल्का व्यायाम करें – गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलायों को कमर में दर्द की शिकायत होती है जिसका कारण होता है शिशु का महिला के शरीर पर पडने वाला दबाव ऐसे में आवश्यक है कि हलकी और डॉक्टर द्वारा सुझाई गयी कुछ एक्सरसाइज अवश्य करें और साथ ही रात को सोते समय पैरों के बीच तकिया लगाकर सो सकते है जिस से आपकी कमर को भी थोडा सपोर्ट मिलता है सुबह शाम बाहर घूमने जाएँ और अधिक से अधिक पैदल चलने की कोशिश करें लेकिन रफ़्तार तेज नहीं होनी चाहिए इस समय में मसालेदार भोजन या फ़ास्ट फ़ूड से जितना हो सके दूरी बनाकर रखें |

खुद डॉक्टर नहीं बने – वैसे तो किसी भी हालत में हमे दवाईयों का सेवन बिना डॉक्टर के परामर्श से नहीं करना चाहिए लेकिन फिर भी जब गर्भावस्था की बात हो तो मामला अधिक संवेदनशील हो जाता है क्योंकि एक तरह से आप अपने साथ साथ एक और जिन्दगी लिए है इसलिए इस बात क्या ध्यान रखें कि दवाईया चिकित्सक के परामर्श के बाद ही लें  अपनी मर्जी से या लापरवाही की वजह से दवाओं का सेवन करना आपके और आने वाले बच्चे की ग्रोथ को नुकसान कर सकता है | और साथ ही अगर आप डॉक्टर से दवाई लेकर आयीं है और उनके साथ खुद को परेशानी में महसूस करती है तो तुरंत डॉक्टर से इस बारे में सम्पर्क करके परामर्श लें |

हल्का संगीत सुने – कुछ वैज्ञानिक शोधो में ये सामने आया है कि अच्छा संगीत आपके लिए गर्भावस्था काल के दौरान लाभदायक हो सकता है क्योंकि यह थका देने वाला और तनावपूर्ण समय होता है इसलिए आप हल्का और मद्धिम आवाज में संगीत सुन सकती है |

परिवार से सहयोग लें – इस दौरान थोड़ी सजगता से काम लें और अपनी जिम्मेदारिओं के लिए अधिक तत्परता नहीं दिखाएँ क्योंकि ऐसे में आपको सामान्य से अधिक नींद लेने की आवश्यकता है सो अपने परिवार और पति के साथ मिलकर घर के काम और अन्य चीजों के बीच सामंजस्य बैठाएं अधिक काम नहीं करें |

खुश रहें – इस समय में बच्चे की उचित ग्रोथ के लिए आवश्यक है कि आप किसी भी तरह के तनाव से बचे और इसके लिए आप अपने दोस्तों के साथ समय बिता सकती है और उन्हें अपने घर पर invite कर सकती है ताकि आपका प्रसव से पहले का समय अच्छा और सुखद रहे किसी भी तरह की तनाव की स्थिति से बचने के लिए आप अपने पति या अपनी अच्छी दोस्तों से अपनी परेशानियाँ share कर सकती है |

अपनी इच्छा जाहिर करें – प्रसव काल के दौरान अगर प्रसव किसी अस्पताल में होना है तो आप डॉक्टर और वंहा के स्टाफ को लेकर सहज रहना चाहिए और आप चाहें तो प्रसव के नए तरीके जिनमे हिप्नोबर्थ और वाटरबर्थ शामिल है से भी प्रसव की इच्छा अगर आपकी हो तो डॉक्टर से आग्रह कर सकते है | हिप्नोबर्थ (सम्मोहन के जरिये बच्चे का जन्म) और वाटरबर्थ ( पानी के अंदर जन्म की एक कम दर्द वाली क्रिया ) के बारे में अधिक जानकारी के लिए यंहा क्लिक करें  |  Next

अंग्रेजी में इस बारे में पढ़े – http://en.wikipedia.org/wiki/Pregnancy

यदि आपके पास Hindi में कोई Hindi article, Hindi inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया [email protected] हमे  E-mail करें पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. ये जानकारी  आपको कैसी लगी इस बारे में अपने विचार हमे नीचे कमेन्ट के माध्यम से जरुर दें |

कहानियो का विशाल संग्रह पढने के लिए यंहा क्लिक करें |