Home Short Stories वजीर पिता के लिए – for parents hindi story

वजीर पिता के लिए – for parents hindi story

SHARE

parents hindi story – बहुत पुराने समय की एक घटना है | हरून रशीद इराक के बगदाद के एक बहुत नामी बादशाह था | किसी वजह से एक बार वो अपने वजीर से अच्छा खासा नाराज हो गया | उसने वजीर और उसके बेटे को जेल में डाल दिया | उस वजीर को एक परेशानी थी कि उसके लिए ठंडा पानी सेहत के लिए बहुत हानिकारक था जबकि जेल में उसे सुबह सुबह हाथ मुह धोने के लिए गरम पानी कन्हा मिलता | वंहा तो कैदियो की तरह सभी को ठंडा पानी दिया जाता था और इसी वजह वजीर का बेटा रात को सोने से पहले पानी का लौटा भरके लालटेन के ऊपर रख दिया करता था ताकि सुबह तक लालटेन की गर्मी से पानी गरम हो जाएँ |

लेकिन वंहा का जेलर बड़ा ही निर्दयी था उसे जब पता लगा की वजीर का बेटा अपने पिता के लिए पानी को लालटेन पर गर्म करता है तो उसने वंहा से लालटेन को हटवा दिया | अब उसके पिता को सुबह सुबह ठन्डे पानी का इस्तेमाल करना पड़ता जिस से उसके पिता की बीमारी बढ़ने लगी लेकिन इस पर भी वजीर के बेटे ने एक उपाय खोज लिया वो पानी का लौटा लेकर उसे रात को सोते समय अपने पेट से सटा लेता था ताकि उसके शरीर की गर्मी से पानी कुछ गरम हो जाये और उसके पिता की परेशानी कम हो | लेकिन ऐसा करने के बाद वो रात को सो नहीं पाता था क्योंकि नींद में लोटे के गिर जाने का भी भय बना रहता |

जेलर को जब एक बेटे की इस पित्रभक्ति का पता चला तो उसका मन बदल गया और उसने वजीर को सुबह सुबह गरम पानी की व्यवस्था कर दी |