Home finance प्रॉपर्टी के अगेंस्ट मिलने वाले लोन की कुछ खास बातें

प्रॉपर्टी के अगेंस्ट मिलने वाले लोन की कुछ खास बातें

SHARE

loans against property के बारे में बात करें तो जैसा कि नाम से जाहिर है यह इस तरह का loan होता है जो आपको अपनी सम्पति के अगेंस्ट में मिलता है यानि कि आपको गारंटी के तौर पर अपनी सम्पति को रखना होता है या इसे हम पुराने और आसान शब्दों में कहें तो अपनी सम्पति को bank के पास गिरवी रखना होता है और अगर आप किसी भी वजह से bank loan नहीं चुकाते है तो आपकी सम्पति को बेचने का पूरा अधिकार bank के पास होता है तो चलिए इसी बारे में कुछ और बात कर लेते है –

loans against property information in hindi

loans against property के बारे में जानकार यह कहते है कि चाहे आप खुद का कोई business कर रहे हो या फिर आप किसी कर्मचारी के तौर पर काम कर रहे हो loans against property के बारे में सोचना या इसे लेना एक तरह से बेहतर तरीका है यह जानने का कि आपकी प्रॉपर्टी की कितनी वैल्यू है और इसे लेने के लिए आप किसी भी bank को अप्रोच कर सकते है | सामान्यत: किसी भी bank के लिए इस प्रोसेस को पूरा करके loan देने के लिए 4-7 दिन का समय लगता है |

loans against property के लिए अलग अलग bank अलग अलग तरह की सुविधा देते है जिसमे आप 10 crores तक का loan अपनी प्रॉपर्टी को गारंटी के तौर पर रखकर ले सकते है और bank आपको इसे किश्तों में भरने के लिए 180 महीने तक का समय दे सकते है | दूसरे किसी तरह के लोन जैसे कि पर्सनल लोन या ऐसे लोन जो व्यक्ति की credit history देखकर दिए जाते है उनके बजाय प्रॉपर्टी के against मिलने वाले loan जल्दी अप्रूव हो जाते है और ऐसे में bank आपकी प्रॉपर्टी का वैल्यूएशन करता है और उसी आधार पर आपको loan देता है |loans against property hindi

loans against property एक तरह से सिक्योर्ड लोन्स की केटेगरी में आते है जन्हा आप सिक्यूरिटी के तौर पर अपनी किसी सम्पति को bank के पास गिरवी रखते है और bank उस प्रॉपर्टी के मार्किट प्राइस का 40 से 60 प्रतिशत तक की रकम का आपको लोन देता है और यह bank के विवेक पर और व्यक्ति की क्रेडिट हिस्ट्री पर निर्भर करता है | प्रॉपर्टी के against में लिए जाने वाले लोन निम्न purpose के लिए लिए जा सकते है –

  • अपने Business के विस्तार के लिए
  • बच्चो की शादी के लिए
  • विदेश में बच्चो की पढाई के लिए
  • चिकित्सा सेवाओं के लिए

लोन देने से पहले पहले bank जिन कारकों पर गौर करता है वो है –

  • आपकी आय , व्यव का पैटर्न
  • आपकी प्रॉपर्टी की मार्केट वैल्यू
  • अपने अगर भूतकाल में कोई लोन लिया है तो उसकी हिस्ट्री कैसी है इस बात पर भी बैंक गौर करता है |

Bank के द्वारा दिए गये लोन को चुकाने के लिए सामान्यत: 15 साल तक का समय लिया जा सकता है और उस पर ब्याज की अगर बात करें तो यह 12% से लेकर 15.75 % तक हो सकता है जो समय समय पर बैंक्स और दूसरी फाइनेंसियल संस्थाओं के द्वारा संशोधित की जा सकती है |

तो ये है loans against property information in hindi और इस बारे में अधिक जानकारी या सुझाव के लिए आप हमे ईमेल कर सकते है और हमे regular hindi updates पाने के लिए आप हमे फेसबुक पर follow कर सकते है या नीचे लाल रंग के घंटे के निशान पर क्लिक कर सकते है |

Image source – demo pic