Home सम्पादकीय खुद से कैसे प्यार करें – Love yourself hindi

खुद से कैसे प्यार करें – Love yourself hindi

SHARE

Learn Love yourself hindi – खुद से कैसे प्यार करें ये एक कला है | चूँकि हमारे पास केवल एक ही जिन्दगी है जो हम अभी है और ऐसे में जब हम इसकी अहमियत नहीं समझ पाते तो खुद की बात अलग है क्योंकि हम खुद से शायद ही कभी रूबरू होने की कोशिश करते हो इसलिए हम इस बारे में बात नहीं करेंगे लेकिन साथ ही किसी दूसरे के लिए भी इसकी अहमियत खो देते है | आपके अंदर बहुत सी ऐसी खासियते होती है जिनके बारे में आप जानते है या कभी कभी महसूस भी करते है लेकिन फिर भी आप दुनियाभर की चिताओं या असुरक्षा की भावना के चलते दुनियादारी में उलझे रहते है और उन पर कुछ खास ध्यान नहीं दे पाते इसलिए ऐसा होता है कि थोड़े दिन बाद हम इस बात को लेकर confuse होते है  कि ‘मेरी जिन्दगी का उद्देश्य क्या है ?

love yourself hindi
love yourself hindi

 

जीवन का उद्देश्य –  उद्देश्य अगर आप देखें तो बहुत ही simple सा है कंही कोई दुविधा नहीं है आप यंहा है और मनुष्य जाति जो कि सर्वश्रेष्ठ हम कह सकते है के रूप में तो हम अधिक से अधिक क्या कर सकते है ? जाहिर है दुनिया भर में जो सुन्दरता है जो विविधता है उसे खोज सकते है लोगो को प्रेम कर सकते है लोगो के प्रेम का हिस्सा बन सकते है |  हमारे आस पास बहुत कुछ ऐसा है जिससे हम अनजान है और काम और जिन्दगी के भागदौड़ में हम यह तक नहीं सोचते कि आखिर कब तक हम भागेंगे और कितना भाग सकते है क्योंकि आप कुछ भी करिए फिर भी कुछ न कुछ ऐसा होगा जो छूटेगा ही सो ऐसा क्यों नहीं करते कि एक परिपूर्णता को प्राप्त करने की कोशिश करें जो आपके अंदर ही है और आप अपने साथ हर वक़्त मौजूद रह सकते है इसलिए आपको कंही भागने की भी जरुरत नहीं पडती है अगर खुद में अपनी खुशियाँ देखते है तो |

खुद से कैसे प्यार करें – अगर आप नहीं जानते कि खुद से प्यार कैसे करते है और उसमे किस तरह की ख़ुशी है तो एक काम करिए जब भी आपको कभी वक़्त मिले अकेले बैठिये और आंखे बंद कर दुनिया की चिंताओं को पीछे छोड़ते हुए सब कुछ भूलने की कोशिश करिए क्योंकि कभी ऐसा नहीं होता है कि हम अगर कुछ कर नहीं रहे है तो हमारे दिमाग में भी कुछ नहीं चल रहा होता | हम शांत भी बैठें होते है तो भी हमारे दिमाग में भविष्य की योजनायें ,बीते दिनों की यादें ,काम और जॉब के बारे में चिंताएं निरंतर चलती रहती है और हम एक दिन में कुछ बदल भी तो नहीं सकते इसलिए एक तरह से योजना बनायें कि आपको किस तरह से खुद के लिए समय निकालना है | और जब आप शांत बैठने की कोशिश के साथ केवल खुद के बारे में ही सोचते है तो कुछ दिनों के अभ्यास के बाद आप अपनी सच्ची ख़ुशी और अपने जीवन के उद्देश्य के बारे में जान सकते है | खुद के साथ वक़्त बिताने के दो बड़े फायदे है एक तो आप अपनी रचनात्मकता को पहचान सकते है और उसे improve भी कर सकते है और दूसरा की लोगो की बजाय खुद की परवाह करना सीख सकते है |

  • घर में भी  आप अपने साथ अधिक से अधिक वक्त बिता सकते है और अपनी रचनात्मकता को निखारते हुए आप सच्ची ख़ुशी को प्राप्त कर सकते है | उदाहरण के लिए मानते है  अगर आपको पेंटिंग का शौक है जबकि आपको लगता है कि “पता नहीं मैं कैसी बनाता हूँ ?” तो भी मैं आपसे कहना चाहूँगा किसी को अपनी रचनात्मकता दिखाएँ ये कन्हा जरुरी है ,जरुरी ये है आपको इस काम में ख़ुशी मिलती है तो आप ये करें |
  • आप दोस्तों के साथ हमेशा किसी झील के किनारे या कंही किसी adventure वाली जगह पर जाते है लेकिन कभी अकेले जाकर देखें और प्रकृति के साथ समय बिताएं |
  • खुद को हल्का और खुला खुला महसूस करें और सोचे कि जिन चीजों के लिए आप चिंतित है क्या वाकई आपको उनकी जरुरत है क्या वाकई आप उसे से बेहतर कुछ deserve नहीं करते है ?
  • धीरे धीरे अपने नजरिये में अपने प्रति बदलाव लाने की कोशिश करे और अपने प्रति थोड़े अधिक उत्साहित बने |
  •  जब आप अकेले हो तो फेसबुक या अन्य सोशल नेटवर्किंग साईट पर समय waste करने के मुकाबले जिन्दगी के बारे में दूसरे लोग क्या कहते है इस बारे में उनके विचार पढ़े |
  • कहते है एक अच्छी किताब आपकी एक अच्छी दोस्तों हो सकती है इसलिए किताबों को अपनी जिन्दगी में जगह दें |
  • लोगो की जगह खुद की परवाह करें और ये normally देखने में आता है कि बहुत सारी नयी चीज़े हम इसलिए नहीं करते क्योंकि हमे लगता है लोगो के इस बारे में विचार अलग हो लेकिन ऐसा नहीं है | एक बात हमेशा ध्यान रखें आप अगर अपनी खुशियाँ और अपनी जिन्दगी को अपने तरीके से plan नहीं करते है तो फिर दूसरे ही करेंगे और आप अंदाजा लगा सकते है कोई दूसरा अपने लिए कितना सा बेहतर कर पायेगा |
  • छोटी छोटी खुशियों को जीना सीखें और जिन्दगी को detail में जियें जैसे कि अगर आपका कभी बारिश में मन कर रहा है नहाने का तो कुछ भी नहीं सोचिये और बस बूंदों के बीच उतर जाईये | आपका जमीन पर सोने का मन है तो सब कुछ भूल सो जाईये जो आपका मन करें जिस छोटे से कार्य में आपको ख़ुशी मिलती है करिए फिर देखिये कैसे आप खुद से रूबरू होते है |

जब हम खुद से प्यार करने लगते है तो हम जिन्दगी के बहुत कुछ उन छिपे पहलुओं को जीते है जो हमसे जुड़े है भले ही जिन्दगी की राह फिसलन भरी हो और हर दिन नई नई परेशानियों का सामना करना पड़ता हो लेकिन जब आप जिन्दगी के साथ खुद को संतुलन बनाते हुए देखते है तो यह काफी आसान हो जाती है | NEXT..

कहानियो का विशाल संग्रह पढने के लिए यंहा क्लिक करें |

यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया [email protected] हमे  E-mail करें पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks! ये जानकारी  आपको कैसी लगी इस बारे में अपने विचार हमे नीचे कमेन्ट के माध्यम से जरुर दें  |

IMAGES FROM –http://www.get-covers.com/