Home hindi stories मांगलिक जो हूँ – manglik dosh in hindi story

मांगलिक जो हूँ – manglik dosh in hindi story

SHARE

Manglik dosh in hindi story – एक पिता जिनका ज्योतिष में और  Manglik ,Amanglik जैसी चीजों में गहरा विश्वाश था और उनके घर में एक शिक्षिता लड़की थी जिसकी उम्र शादी की हो गयी थी लेकिन वह किसी भी लड़के जिस से वो शादी करना चाहती या कोई रिश्ता आने पर पसंद करती तो  पिता कहते ग्रहों और गुणों का मिलन नहीं है क्योंकि लड़की  Manglik है  इसलिए शादी नहीं हो सकती | इस तरह कई लोगो ने कई लडको को सुझाया पर पिता के ज्योतिष में गहरे विश्वाश के चलते बात नहीं बन पायी इस वजह से अपने पिता की आदत और उनकी मान्यता को लेकर लड़की भी थोड़ी परेशान थी |

manglik dosh
manglik dosh

 

एक दी लड़की के पिता के मित्र मिलने आये और बातों ही बातों में उन्होंन पूछा कि भाई ‘बिटिया की शादी कब कर रहे हो ?” इस पर पिता ने जवाब दिया यार कोई अच्छा लड़का ही नहीं मिलता और मिलता है तो ग्रह नक्षत्र ही नहीं मिलते और तुम्हे तो पता है इनके समुचित मिलान के बिना कन्हा शादी सफल होती है लड़की अंदर कमरे से यह सब सुन रही थी | लड़की ने सोचा मैं मांगलिक हूँ तो क्यों न शादी को भी मंगलमय बनाया जाये और अगले हफ्ते ही उसने मंगलवार के दिन अपने पसंद के एक लड़के से कोर्ट में शादी करली |

शादी कर दोनों आशीर्वाद लेने पिता के पास पहुंचे आशीर्वाद लेने तो पिता के कुछ बोलने से पहले ही लड़की ने पिता से कहा पिताजी आप ही कहते हो न कि मैं मांगलिक हूँ और इस मांगलिक के चक्कर में जिन्दगी का एक कीमती वक़्त निकल जाता है और फिर जिस मान्यता पर आपका विश्वाश हो जरुरी नहीं है मेरा भी हो इसलिए मैं आपकी मान्यता के चलते अपनी जिन्दगी और भविष्य क्यों बलिदान करू और चूँकि अब हम एक और एक मिलकर मंगल्द्व्य हो गये है इसलिए अब हमे आशीर्वाद दीजिये कि हमारा आने वाला जीवन मंगलमय हो क्योंकि मैं मांगलिक जो हूँ |

डॉ कल्याण प्रसाद जी की खूबसूरत रचना

यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया [email protected] हमे  E-mail करें पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

कहानियो का विशाल संग्रह पढने के लिए यंहा क्लिक करें |

ये कहानी आपको कैसी लगी इस बारे में अपने विचार हमे नीचे कमेन्ट के माध्यम से जरुर दें |