Home Short Stories राजा का मिजाज – Mood of King Hindi Story

राजा का मिजाज – Mood of King Hindi Story

SHARE

एक प्रदेश का एक राजा अपने राज्य के भ्रमण पर भेष बदल कर निकला तो उसने देखा सब और लोग बड़ी मेहनत कर रहे थे किसी के चेहरे पर कोई भाव नहीं थे तो राजा को लगा कि अवश्य ही मेरे राज में लोग खुश  नहीं है इसलिए जब वो लौटा तो उसने सेनिको को आदेश दिया की पूरे राज्य में ये मुनादी करवा दो कि आज के बाद अगर कोई हंसता हुआ नहीं पाया गया तो उसे फांसी दे दी जाएगी |

ये हो जाने के बाद में राज्य में हर आदमी हँसते हुए सारे काम करने लगे अगर कोई रोता भी तो भी हंस हंसा के रोता अगर किसी से झगड़ा भी होता तो भी हंस हंसा के झगड़ा करते तो एक बार ऐसा हुआ कि राजकुमार शिकार करते हुए जंगल में मारा गया तो लोग उसे लेकर दरबार में आये इस पर मंत्रियों ने भी हँसते हुए राजकुमार के मरने की खबर राजा को दी | इस पर राजा आगबबूला हो गया और ये मुनादी करवा दी कि आज के बाद जो हँसता हुआ पाया गया उसे फांसी दे दी जाएगी और सारे लोगो को रोना है |

इसके बाद तो अगर किसी को कुछ ख़ुशी भी होती तो भी वो आंसू बहाता किसी से कुछ बातें करनी होती तो भी रो रो के करता कुछ दिनों बाद रानी को बेटा हुआ तो दाई ने रोते हुए आकर राजा को खबर दी और मंत्रियों ने भी रोते रोते राजा को बधाई दी  तो राजा फिर गुस्से में हो गया और राजा ने कहा मुझे बेटा हुआ है और आप लोग रो रहे है | आज से कोई नहीं रोयेगा |

लोग फिर से भावविहीन हो गये इसलिए ये कहावत बनी है कि ” राजा के सामने रोये तो भी गलत है और हँसे तो भी गलत |” उसके मिजाज का कुछ भी नहीं कह सकते |