Home स्वास्थ्य मोतियाबिंद क्या है और कैसे संभव है इसका निदान

मोतियाबिंद क्या है और कैसे संभव है इसका निदान

SHARE

Motiabind यानि की मोतियाबिंद एक आँखों से जुडी बीमारी है जिसमे होता ये है कि उम्र या किसी अन्य वजह से आँखों के लेंस की पारदर्शिता जो होती है वो कम हो जाती है इसलिए प्रकाश का सही से आँखों में प्रवेश नहीं होता है और वो प्रक्रिया ठीक से पूरी नहीं होती है है जिसकी वजह से किसी भी दृश्य को हम सही से देख पाने में सक्षम होते है और ऐसे में हमे कुछ भी साफ़ नहीं दिखता है और चीज़े धुंधली नजर आने लगती है |

Motiabind eye disease know more in Hindi

वजह क्या है Motiabind / मोतियाबिंद  की –

वैसे हम सब जानते है आजकल का lifestyle कैसा है और इस वजह से भोजन में भी वो ताकत नहीं रह गयी है जो पहले के खाने वाली चीजों में होती थी क्योंकि यह तो साफ़ तौर पर देखा जा सकता है कि जैसे जैसे खाध्य पदार्थो की demand बढ़ रही है वैसे वैसे उसी जमीन से अधिक से अधिक पैदावार लेने की कोशिश में हम बहुत से रासायनिक पदार्थो का उपयोग खेती में करते है इसलिए आजकल समय से पहले ही बुढापा आ जाता है उपर से काम का तनाव जो पहले के लोगो में नहीं हुआ करता था और न ही सफल होने की इतनी प्रतिस्पर्धा थी | इसलिए हम बुढ़ापे तक जाते जाते कई तरह की परेशानियों से ग्रस्त हो जाते है और Motiabind /मोतियाबिंद में अक्सर बढती उम्र के कारण होता है | लेकिन ऐसा नहीं है केवल उम्र का ही एक factor है असल में आँखों में किसी तरह की चोट , dibties , और किसी दूसरी बीमारी के समय लम्बे समय तक की गयी दवाईया भी इसके लिए जिम्मेदार हो सकती है |  कभी कभी आँखों की किसी दूसरी तरह की समस्या की वजह से की गयी सर्जरी भी Motiabind /मोतियाबिंद की वजह हो सकती है |

motiabind eye disease
motiabind eye disease

Motiabind /मोतियाबिंद का इलाज –  

असल में Motiabind /मोतियाबिंद में होता यह कि हमारी आँखों के जो लेंस होते है वो एक खास तरह के प्रोटीन से बने होते है जिसे क्रिस्टलीन प्रोटीन के नाम से जाना जाता है जो आँखों को साफ़ रखने और दृश्य चीजों की image बनाने के लिए जरुरी प्रकाश को अंदर आने देता है और आँखों की छोटी छोटी कोशिकाओं को भी यह मजबूत करता है और हमारी देखनी की क्षमता को अच्छी तरह से प्रबल करता है | मोतिअबिंद होने की दशा में ऐसा होता है कि आँखों के लेंस पर एक हाइड्रोफोबिक परत जम जाती है जिसकी वजह से प्रकाश के अंदर आने की क्रिया में बाधा होती है जिसकी वजह से प्रकाश सही मात्रा में अंदर नहीं आता है और इसी वजह से हमारी देखने की क्षमता में भी कमी आती है | इसके लिए चिकित्सा विज्ञानी लोगो ने एक eye drop का निर्माण किया है जो बिना सर्जरी Motiabind /मोतियाबिंद के निदान में काम आ सकती है लेकिन अभी इंसानों पर इसके जरुरी परीक्षण होने बाकि है इसलिए अगर अभी के समय की हम बात करें तो Motiabind /मोतियाबिंद का इलाज केवल सर्जरी से ही संभव है और ध्यान रखने वाली बात ये है अगर सही समय पर इलाज को हासिल नहीं किया जो व्यक्ति की समस्या बढ़ सकती है और रोगी अँधा भी हो सकता है इसलिए जरुरी है सही समय पर रोग की पहचान करके आप किसी अच्छे doctor से सम्पर्क करें और इस बारे में सही इलाज और जरुरी बातों का ध्यान रखें |

तो ये है hindi में motiabind के बारे में कुछ जानकारी और हमारी website से hindi में अपडेट पाने क लिए आप हमारे गूगल प्लस page से जुड़ सकते है साथ ही हमसे फ्री ईमेल hindi subscription भी ले सकते है और अगर आपके मन में किसी तरह का कोई सवाल या जानकारी है जो आप हमसे साझा करना चाहते है तो आप [email protected] पर ईमेल कर सकते है या skype पर पूछ सकते है | Skype -Guide2india |

Image Source – Free Images