Home स्वास्थ्य फेंटम गर्भावस्था क्या है इस बारे में जानिए

फेंटम गर्भावस्था क्या है इस बारे में जानिए

SHARE

Phantom pregnancy शब्द से आप समस्या का अंदाजा लगा सकते है कि यह असल में होती क्या है  अगर फिर भी आप यह अंदाजा लगाने में खुद को मुश्किल में पा रहे है तो हम आपके लिए यह आसान कर देते है असल में Phantom pregnancy का मतलब है  -”  अगर किसी महिला को अपने बढ़ते पेट और कमजोरी महसूस होने की दशा में उसे लगता है वह गर्भवती है लेकिन जब वो doctor के पास चेक अप के लिए जाती है और उसे बताया जाता है कि ऐसा नहीं है और यह पेट का फूलना और गर्भावस्था के लक्षण जो है वो किसी अन्य बीमारी या किसी और वजह से है तो ऐसी स्थिति को ‘Phantom pregnancy’ कहते है |“

Know Phantom pregnancy in hindi

Phantom pregnancy के लक्षण –  चूँकि यह इसमें pregnancy से मिलते जुलते लक्षण होते है इसी वजह से इसका यह नाम रखा गया है Phantom pregnancy के दौरान होने वाले मुख्य बदलाव ये होते है – वजन बढ़ने लगता है , चक्कर आना ,मितली होना , थकान और उलटी की शिकायत होना और  माहवारी में भी अनियमितता होने लगती है जिसकी वजह से महिला को pregnancy का भ्रम हो जाता है | और ऐसा जिनके साथ होता है उनमे अधिकतर वो 30-40 Age group की महिलाएं होती है |

Phantom pregnancy
Phantom pregnancy

कैसे लगता है पता –  किसी महिला के लिए pregnant होने से अलग और सकूं का अहसास कुछ नहीं होता है और ऐसे में आने वाले दिनों की care करने और कुछ health से जुडी जानकारियां जुटाने के लिए महिला doctor के पास जाती है जिस से pregnancy की पुष्टि हो सके और ऐसे में महिला का ultrasound किया जाता है और अगर doctor जाँच के दौरान पाता है कि महिला pregnant नहीं है तो वो Phantom pregnancy की स्थिति बताता है और ऐसा होना किसी भी महिला के लिए एक Good News यकीनन नहीं है लेकिन फिर भी आपको अपनी भावनाओं पर काबू पाते हुए चीजों को सुधारने की कोशिश करनी होती है और यह बात भी देखने में आती है कि घर पर जो यूरीन टेस्ट के जरिये महिला के गर्भवती होने का जो टेस्ट किया जाता है वो -ve होता है क्योंकि महिला गर्भवती होती ही नहीं है लेकिन emotionally rich होने के कारण महिलाएं इसे मानने को तैयार नहीं होती है और ऐसे में doctor से जाँच करना pregnancy की पुष्टि के लिए एक अच्छा विकल्प है जिस से आपको भी आने वाले समय में किसी तरह की कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़े |

ऐसे में महिला को मानसिक तौर पर सहज होना चाहिये और चीजों को कायदे से स्वीकार करते हुए अपने health के सुधार के बारे में सोचना चाहिए और ऐसे मामलों में doctor परिवार को और महिला को मानसिक support भी करते है और यह नैतिकता के नाते किया जाना चाहिए |

 ये है Phantom pregnancy in hindi और हमारी website से hindi में अपडेट पाने के लिए आप हमारे गूगल प्लस page से जुड़ सकते है या फिर हमसे फ्री ईमेल subscription भी ले सकते है |

Image Source – Free Images