Home General Knowledge RTI (सूचना का अधिकार) की एप्लीकेशन कैसे लगायें – rti application form...

RTI (सूचना का अधिकार) की एप्लीकेशन कैसे लगायें – rti application form in hindi

SHARE

rti application form in hindi- क्या है सूचना का अधिकारसूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के अंतर्गत वह अधिकार है जो एक तरह से आम जन को सशक्त बनता है क्योकि सूचना के अधिकार के अंतर्गत वह किसी भी सरकारी महकमे से कुछ भी जानकारी मांग सकता है जिसमे उसे लगता है कि पारदर्शिता नहीं है या फिर अपनी जानकारी के लिए भी वह सूचना के अधिकार का प्रयोग कर सकता है |

वैसे तो rti एप्लीकेशन के लिए कोई निश्चित परफोर्म नहीं है क्योकि आप एक सादे कागज पर भी अपनी एप्लीकेशन लिख कर वांछित जानकारी जो है उसकी मांग कर सकते है या फिर किसी से टाइप करके या टाइप करवाके भी एप्लीकेशन को जमा करवा सकते है |

शुल्क : RTI के तहत सूचना मांगे जाने के लिए निर्धारित फीस 10 रूपये है और अगर आप बी पी एल परिवार से संबधित है तो आपके लिए कोई भी शुल्क नहीं लिया जावेगा बशर्ते आपको इस से जुड़े दस्तावेज की फोटोकॉपी जो है वो एप्लीकेशन के साथ देनी होती है |

फीस किस mode में दें : फीस नकद या डिमांड ड्राफ्ट या फिर सबसे सुविधापूर्ण तरीके पोस्टल आर्डर से दी जा सकती है और पोस्टल आर्डर या डिमांड ड्राफ्ट जो है वो सम्बन्धित विभाग के अकाउंट ऑफिसर के नाम से होना चाहिए पोस्टल आर्डर किसी भी पोस्ट ऑफिस से खरीदा जा सकता है |

सूचना प्राप्त करने का समय : सूचना के अधिकार के अंतर्गत मांगी गयी सूचना आपको तीस दिन की निर्धारित अवधि के अंतर्गत उपलब्ध करवाए जाने का प्रावधान है नहीं तो आप अपील भी कर सकते है और ध्यान दें कि अगर तीस दिन से अधिक की अवधि हो जाने के बाद अगर सम्बन्धित अधिकारी आपसे किसी तरह की जानकारी से जुड़े दस्तावेज के लिए फीस की मांग करता है तो आप उसके के लिए अपील करें क्योकि अवधि के गुजर जाने के बाद वो आपको बिना किसी शुल्क के सारी जानकारी उपलब्ध करवाने के लिए उतरदायी होगा फिर चाहे उनकी संख्या कितनी भी हो |

rti एप्लीकेशन कैसे लिखे :

फर्ज़ करें मुझे मेरे से सम्न्धित सार्वजनिक निर्माण विभाग से मेरे घर के आगे से गुजरने वाली रोड के बारे में कुछ जानकारी लेनी है क्योकि वो बनाने के कुछ ही समय बाद से वो उखड गयी हो :-

सेवा में,

जन सूचना अधिकारी

सार्वजानिक निर्माण विभाग

हनुमानगढ़ ,राजस्थान |

विषय : सूचना का अधिकार कानून, 2005 के तहत आवेदन

महोदय,

वार्ड संख्या 12 स्थित गोपाल जी मंदिर के सामने से गुजरने वाली 350 मीटर की रोड  के बारे में यह जानकारी दें।

1. इस रोड के निर्माण में कितना व्यव विभाग द्वारा किया गया |

2. रोड के निर्माण और रखरखाव के लिए किन शर्तो पर ठेकेदार को चुना गया

3 . सड़क के निर्माण के लिए निर्माण सामग्री को किन मानको पर खरीदा गया और किस कम्पनी से खरीदा गया |

4 . सड़क निर्माण के कुछ समय बाद ही उखड गयी है तो इसके पीछे क्या कारण है जो स्पष्ट किये जा सकते है और अगर निर्माण में घटिया सामग्री का उपयोग हुआ है तो दोषी लोगो पर करवाई की जाने की समयसीमा क्या है

मैं आवेदन शुल्क के रूप में 10 रुपये का पोस्टल ऑर्डर/मनी ऑर्डर (जो भी भेजना हो) साथ में भेज रहा हूं। कृपया सूचना का अधिकार एक्ट के अनुसार मुझे समय पर सूचना उपलब्ध कराई जाए।

आवेदक
कमल कुमार

तारीख : 28/04/2012

पता : 520 वार्ड संख्या 12 गोपाल जी के मंदिर के पास कोर्ट रोड हनुमानगढ़ राजस्थान |

 

सूचना देने पर या देर से देने या गुमराह करने पर की जाने वाली कारवाई : अगर कोई अधिकारी आपको सूचना देने से मना करता है या फिर जानबूझकर देरी करता है या तथ्य छुपाने की कोशिश करता है तो उसके लिए आप अपील कर सकते है | और ऐसा करने पर सम्न्धित अधिकारी पर प्रतिदिन के अनुसार 250 रूपये के अनुसार 25000 रूपये तक जुरमाना लगाया जा सकता है |