Home General Knowledge Sports injury क्या है चलिए जानते है

Sports injury क्या है चलिए जानते है

SHARE

Sportsman के लिए यदा कदा Sports injury होना कोई बड़ी बात नहीं है क्योंकि हम खेलते है तो हम बहुत सारी चूक भी करते है और कई बार हलकी फुलकी चोट या मोच का आ जाना स्वाभाविक है लेकिन इसके प्रति दिए जाने वाले ध्यान के प्रति इतना स्वाभाविक नहीं होना चाहिए क्योंकि हम अक्सर इसे ignore कर देते है और सोचते है कि एक दो दिन में ठीक हो जायेगा क्योंकि फालतू में doctor के पास जाकर पैसे खर्च करना …लेकिन यह बेहूदा ख्याल है क्योंकि अगर आप ये करते है तो आप अपनी health के प्रति लापरवाही के अलावा और कुछ भी prove नहीं कर रहे होते है | कभी कभी एक छोटी सी चोट भी नासूर बन जाती है जिसकी वजह से आपको बाद के आने वाले दिनों में परेशानी उठानी पड़ सकती है इसलिए आवश्यक है आपको इस बारे में ध्यान देना चाहिए और कभी भी किसी तरह की लगने वाली चोट के प्रति लापरवाह नहीं होना चाहिए |

Sports injury information in hindi

क्या है sports injury – खेल के दौरान लगने वाली चोट को sports injury कहा जाता है और यह अंदरूनी या बाहरी किसी भी तरह की हो सकती है और वो खेल की प्रकृति पर भी बहुत हद तक निर्भर करती है | ज्यादा गंभीर होती है अंदरूनी चोट क्योंकि उनमे किसी भी तरह का निशान या घाव नहीं बनता है ऐसे में वो अधिक गंभीर नहीं लगती है और हम सोचते है मामूली दर्द है ठीक हो जायेगा और कभी कभी अंदरूनी चोट के साथ घाव भी हो सकते है | ऐसे में चोट लगने पर आपको तुरंत doctor को संर्पक करना चाहिए और संभावित नुकसान के बारे में अपने डॉक्टर से बात कर लेना सही होता है |

Sports injury information in hindi
Sports injury

sports injury के तहत आने वाली चोटों में है – लिंगामेंट इंजरी , वजन उठाने में समस्या होना , घुटने और टखने में चोट या मोच , मांसपेशी में खिंचाव की समस्या होना आदि | ऐसे मामले अधिकतर वंहा देखने में आते है जन्हा दो प्लेयर आमने सामने होते है जैसे कि कुश्ती , बॉक्सिंग में तो यह आम होता है , फुटबॉल , मार्शल आर्ट्स आदि खेलों में ऐसी दिक्कते सामने आती है | अगर आप क्रिकेट के शौकीन है तो अक्सर आपने सुना होगा कि फलाने प्लेयर को चोट या कंधे में समस्या होने की वजह से बाहर रखा गया है आदि |

कैसे बचे sports injury से – असल में खेल में लगने वाले चोटें स्वाभाविक होती है और अभ्यास या खेल के दौरान लग सकती है लेकिन अगर हम अपनी पूरी सुरक्षा के साथ मैदान में होते है तो इसकी सम्भावना कम हो जाती है जैसे अगर आप क्रिकेट का अभ्यास कर रहे है तो आपके लिए जरुरी है कि गेंद की तेज गति से बचने के लिए आपने सारे उपकरण अच्छे से पहने हों और साथ ही अगर आप अपने बच्चो को sportsman बनाना चाहते है तो शुरू से ही उनकी आदतों में ये भी विकसित करें कि खेल के दौरान लगने वाली चोट को गंभीरता से लें और घर पर और school के दौरान अपने sports teacher से कुछ भी नहीं छुपायें |

doctor से लें राय – sports injury के मामलों में सही यह होता है अगर शुरू में ही हम चोट लगने पर doctor से राय मशविरा कर लेते है और ऐसी चोट में फिजियोथेरेपिस्ट और आपके sports coach की मदद से आप समस्या से छुटकारा पा सकते है और अगर चोट गंभीर होती है तो आपके लिए सर्जरी करवाना ही अंतिम विकल्प होता है ऐसा होने पर आप किसी ओर्थोस्कोपी सर्जन की मदद ले सकते है |

तो ये है जानकारी आपकी sports injury के बारे में और  हमारी website से hindi में अपडेट पाने के लिए आप हमारे गूगल प्लस page से जुड़ सकते है साथ ही हमसे फ्री ईमेल hindi subscription भी ले सकते है और अगर आपके मन में किसी तरह का कोई सवाल या जानकारी है जो आप हमसे साझा करना चाहते है तो आप [email protected] पर ईमेल कर सकते है या skype पर पूछ सकते है | Skype -Guide2india |

Image Source – Free Images