Home Short Stories दो बाज – Two eagle Hindi Kids Story

दो बाज – Two eagle Hindi Kids Story

SHARE

Two eagle – बहुत पुरानी घटना है एक समय एक राजा था उसे किसी ने दो बाज के दो बच्चे भेंट किये | वो इतनी अच्छी नस्ल के थे कि राजा ने ऐसे अच्छे बाज पहले कभी नहीं देखे थे | इसलिए राजा को वो दोनों बाज बहुत प्रिय हो गया और उसने उनकी देखभाल के लिए एक अनुभवी आदमी नियुक्त कर दिया |

कुछ महीनो के बाद राजा को उन दोनों बाज की याद आई तो उन्होंने ने उनको देखने का मन बनाया और उसी आदमी के यंहा पहुँच गये तो राजा ने देखा दोनों बाज पहले से कंही अधिक बड़े हो चुके है और बेहद अच्छे भी लग रहे है उन्होंने उस देखभाल कर रहे व्यक्ति से कहा कि मैं इन दोनों की उड़ान को देखना चाहता हूँ राजा का आदेश पाकर उस व्यक्ति ने उन दोनों को उड़ने का इशारा किया तो राजा क्या देखता है कि उनमे से एक तो ऊपर आसमान में बहुत ऊँचे उड़ गया और बड़ी अच्छे से उड़ान भर है लेकिन दूसरा वाला थोड़ी ऊँचाई तक गया और वापिस आकर उसी डाल पर बैठ गया जन्हा से वो चला था | राजा ने कारण पूछा कि ऐसा क्यों तो उस व्यक्ति ने बताया कि राजन इसकी शुरू से यही समस्या है और यह थोड़े दूरी पर जाकर फिर से लौट आता है |

राजा ने राज्य में मुनादी करवा दी कि जो कोई उस दूसरे बाज की इस समस्या को खत्म कर देगा वह उसे उचित इनाम देगा तो बहुत से पक्षी विशेषज्ञ आये लेकिन कोई भी ये नहीं कर सका वो बाज हमेशा की तरह थोडा सा उड़ता और फिर वापिस आकर उसी डाल पर बैठ जाता | एज दिन राजा ने एक अनोखी बात देखी कि दोनों बाज दूर ऊँचे आसमान में उड़ान भर रहे थे तो राजा अचरज से भर गया उन्होंने उस आदमी को दरबार में बुलाना चाहा जिसने ये असंभव सा काम कर दिया |

तो एक किसान दरबार में हजिर हुआ तो राजा ने उस से पुछा कि आखिर सब बड़े बड़े विद्वान लोगो से ये नहीं हो पाया तो तुमने किस रीति से ये किया तो किसान ने कहा महाराज मैं कोई अधिक ज्ञानी ध्यानी तो हूँ नहीं लेकिन मैंने बाज जिस डाल पर बैठने का आदी था मैंने  उसे काट दिया और जब वो डाल ही नहीं रही तो वो भी अपने साथी के साथ उड़ान भरने लगा |