Home Short Stories मन की टीस Two friends story in hindi

मन की टीस Two friends story in hindi

SHARE

Two friends – दूर किसी गाँव में दो व्यक्ति रहते थे नाम था सोहन और मोहन | एक दिन दोनों में किसी बात को लेके कहासुनी हो  गयी सोहन ने इतने कडवे शब्द मोहन से कह दिए कि वो गुस्से से आगबबुला हो गया और तलवार निकल कर सोहन पर वार कर दिया | गाँव वालों ने सबने बीचबचाव कर दोनों को छुड़ाया और सोहन की मरहमपट्टी की |

कुछ दिनों बाद सोहन का घाव एकदम ठीक हो गया और वह इस झगड़े को भूल भी गया जबकि मोहन के मन में अभी भी टीस थी इसलिए वो सोहन के सामने आने से भी कतराता था | एक दिन संयोग से उन दोनों का आमना सामना हो गया तो सोहन ने मोहन से कहा देखो तुमने जो चोट मुझे दी वो तो ठीक भी हो गयी और अब बीती बातों को भूल जाते है लेकिन मोहन ने कहा तुमने जो मुझे कडवी बातें कही वो अभी भी मेरे मन में चुभती है मैं उनका क्या करूँ | उस पर सोहन ने कहा मैं अपनी गलती मानता हूँ मैंने गलती की और मुझे इसका अहसास है मैं इसकी माफ़ी भी तुमसे मांगता हूँ कहते कहते वह भावुक होकर रो पड़ा|

मोहन की आँखों में भी आंसू थे उसने भी तो तलवार से उस पर वार किया था दोनों ने एक दुसरे को माफ़ कर दिया और बीती बातों को भुला दिया फिर से गले मिले और उनमे फिर से मित्रता हो गयी और दोनों इतने अच्छे मित्र बने की आस पास के गावों में उनकी दोस्ती की मिसाल दी जाने लगी |