Home General Knowledge क्यों आवश्यक है बैंक अकाउंट के लिए नॉमिनी देना – What is...

क्यों आवश्यक है बैंक अकाउंट के लिए नॉमिनी देना – What is bank nominee in hindi

SHARE

Bank nominee in hindi – बैंकिंग व्यस्था के कारण हमे हमारे लेनदेन और तमाम तरह की वित्तीय सुविधाओं का लाभ मिलता है  और साथ ही हमे हमारी जमाओं पर निर्धारित दर से ब्याज भी बैंक की और से देय होता है लेकिन फिर भी कुछ अन्य छोटी छोटी बाते है जिनका ध्यान रखना आवश्यक है क्योकि नहीं तो भविष्य में किसी भी छोटी सी लापरवाही के चलते काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है जिसमे से एक है अपने बैंक अकाउंट के लिए नॉमिनी का निर्धारण करना ।

क्या होता है नॉमिनी : साधारण शब्दों में कहने तो नॉमिनी का मतलब है आपके न रहने की अवस्था में आपके बैंक कहते में जमा धन और समस्त का कानूनी तरीके से हक़दार । फिर वो चाहे आपके मम्मी पापा पत्नी या कोई भी आपका घनिष्ठ हो सकता है |

असल में होता ये है कि जब भी हम पहली पहली बार कोई अकाउंट खुलवाते है तो कई बार ऐसी स्थिति होती है कि एप्लीकेशन फॉर्म भरते समय अगर हम स्टूडेंट है या फिर हमारे आस पास कोई नयी शाखा खुलती  है तो अकाउंट बल्क (अधिक संख्या में ) खोले जाते है हम जानकारी के अभाव में वो कॉलम नहीं भरते और बैंक अधिकारी काम की अधिकता में नहीं कर पाते जैसे कि जब मेने अपना अकाउंट खुलवाया था तो उस समय मैं बोर्डिंग स्कूल में था और क्योकि बैंक वाले हमारे स्कूल में आकर सारी औपचारिकताएं पूरी कर ले गए थे तो न तो हमसे कुछ अधिक दस्तावेज मांगे गए और न ही हमने फॉर्म भरे तो स्थिति में मेने काफी सालों के बाद अपने बैंक अकाउंट को अपनी होम ब्रांच में ट्रांसफर करवाते समय जो चीज़े बाकि थी वो पूरी की ।

   इसलिए अगर आपको भी ये ध्यान में नहीं है कि अपने अकाउंट के लिए किसी नॉमिनी का निर्धारण किया है या नहीं तो आज ही अपनी बैंक शाखा में सम्पर्क करे और नॉमिनी रखे ताकि कल को किसी भी दुर्गम परिस्थिति में आपके कहते की जमाए बिना किसी कानूनी अड़चनों के आपके अपनों को हस्तांतरित की जा सके |