Home Short Stories अपना हाथ जगन्नाथ और किसान – Work With your own hand farmer...

अपना हाथ जगन्नाथ और किसान – Work With your own hand farmer Hindi Story

SHARE

farmer Hindi Story – किसी गाँव में एक किसान रहता था और वो बहुत अधिक मेहनती था | इस बार उसने और उसके परिवार के सदस्यों ने फसल के लिए खेतों में बहुत अच्छी मेहनत की फलस्वरूप फसल बहुत अच्छी हुई | फसल को देखकर किसान फूला नहीं समा रहा था क्योंकि फसल को काटने का समय आ गया था तो अपने बेटे के साथ एक दिन वो खेत पर आया और बेटे से कहने लगा देखो बेटा सभी रिश्तेदारों को सूचित करदो कि फसल काटने में हमारी सहायता करें और अगले शनिवार तक पहुंचे  |

उसी खेत के एक पेड़ पर एक चिडिया का घोसला था | उसके बच्चो ने जब किसान और उसके बेटे की बातचीत सुनी तो वो डर गये और कहने लगे और अपनी चिड़िया माँ से कहने लगे -अभी हमारे उड़ने का समय नहीं आया है और ये लोग फसल काटने की बात कह रहे है अगर ऐसा हुआ तो हमारा घोसला तो बर्बाद हो जाएगा | इस पर चिड़िया कहने लगी बच्चो चिंता मत करो जो इन्सान दुसरो के भरोसे रहा है उसकी कोई मदद नहीं करेगा |

वही हुआ अगले शनिवार जब किसान और उसका बेटा खेत पहुंचे तो वंहा कोई भी नहीं आया था इस पर किसान ने अपने बेटे से कहा लगता है इस बार हमारी फसल अच्छी हुई है इसलिए सब रिश्तेदार जो है वो हमसे ईर्ष्या करते है तुम एक काम करो अपने मित्रो से कहो कि वो अगले हफ्ते फसल काटने में हमारी सहायता करें | किसान के बेटे ने यही किया |

इस बार भी बच्चे डर गये और वही चिंता अपनी माँ से कही तो चिड़िया ने वही कहानी फिर से दोहरायी | इस बार भी वही हुआ कोई भी नहीं आया तो किसान ने अपने बेटे से कहा देखा तुमने जो दूसरों के सहारे रहता है उसका कोई भी समय पर नहीं होता और कोई भी उसकी मदद को आगे नहीं आता इसलिए तुम आज ही बाजार जाओ और फसल काटने का सामान ले आओ हम कल से ही दोनों मिलकर पूरी फसल काटेंगे |

अब चिड़िया ने अपने बच्चो से कहा कि अब समय आ गया है कि हम उड़ चले इसी को कहते है ‘अपना  हाथ जगन्नाथ’ और इसी के साथ किसान के आने से पहले ही वो अगले दिन अपने बच्चो को किसी सुरक्षित स्थान पर ले गयी |